Disabled Copy Paste

शहद के फायदे और कई बीमारियों का इलाज (Benefits Of Honey)

शहद के फायदे और कई बीमारियों का इलाज 

शहद एक अनमोल नेमत हैं जो खुदा ने इस दुनिया को अता की हैंI शहद की खूबियों का ज़िक्र क़ुरान में भी किया गया हैंI आईये हम बात करते हैं इससे होने वाले कुछ फायदों के बारे में, 

कब्ज़

रात को सोने से पहले 20 ग्राम शहद 200 ग्राम उबले मामूली गर्म दूध में मिलाकर पिएI दूध को उबाले नहीं बल्कि सिर्फ गर्म करे, फिर ठंडा हो जाने पर उसमे शहद मिला कर पिए I इंशाअल्लाह  कब्ज़ दूर हो जायेगा I

पीलिया 

भूरे या लाल रंग के 10 ग्राम शहद में 5  ग्राम आंवले का चूरन मिलायेI दिन में 2 से 3 बार चाटे इंशाअल्लाह पीलिया खत्म हो जायेगा I

चिड़चिड़ापन 

आंवले के मुरब्बे की चाशनी और और एक आंवले को धोकर मसल कर शहद में मिला दे और एक एक घंटे बाद खूब चबा चबा कर चूस चूस कर खाते रहे, जिससे दिमाग की गर्मी दूर हो जाएगी और चिड़चिड़ापन दूर हो जायेगा I

चमड़ी की बीमारी 

गन्ने के सिरके में शहद मिलाकर इस्तेमाल करने से चमड़ी के मर्ज़ से छुटकारा मिलता हैंI डेढ़ चम्मच शहद में आधा चम्मच सिरका मिलाकर दिन में 3 बार इस्तेमाल करे इससे चमड़ी की बीमारी दूर हो जाएगी I

नींद न आना 

5 ग्राम शहद में नीम्बु का रस एक चम्मच मिलाकर इस्तेमाल करे रात को सोते वक़्त दूध में शहद मिलाकर पिए, इससे आप को अच्छी नींद आएगी I

दिल की कमज़ोरी

गाजर को कद्दुकश में रगड़कर सूखा ले फिर 10 ग्राम सूखी गाजर को 15 से 20 ग्राम लेकर शहद में मिलाकर खाये जिससे दिल और फेफड़ो को ताकत मिलेगी और कमज़ोरी दूर हो जाएगी I

भूक न लगना

100 ग्राम गुनगुने पानी में 5 ग्राम शहद घोलकर दिन में 3 बार इस्तेमाल करे इससे हाज़मा दुरस्त हो जायेगा और अच्छी भूक लगने लगेगी I

मुँह के छाले

10 ग्राम त्रिफला चूरन को 100 ग्राम पानी में उबाल ले I दो उबाल आने के बाद उसे ठंडा कर दे फिर उसमे 5 ग्राम शहद मिलाकर 5 मिनट तक कुल्ली करे और गरारे करे इंशाअल्लाह सरे छाले ख़त्म हो जायेंगे I

दमा 

दमा के मरीज़ को शहद बहुत फ़ायदा पहुँचाता हैं I एक चम्मच शहद में एक चम्मच प्याज़ का रस घोल कर देते रहे जिससे गला-फेफड़ा साफ हो जायेगा और इंशाअल्लाह बहुत जल्द आराम मिलेगा I 

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

ईदुल फ़ित्र की इबादतें (Eid Ul Fitr Ki Ibadaten)

शौवाल इस्लामी साल का दसवां महीना हैं। इस महीने का चाँद देखकर सुरह फतह पढ़ कर हरा कपड़ा देखे या सुरह लहब पढ़ कर रंगीन कपड़ा देखे। जो इंसान ...

Popular Posts